7th Master of Art Workshop “Basics of Radio”

master-of-art-workshop-7

Thalagiri.com is braced up to organize its 7th Master of Art Workshop, “Radio”. In this one day workshop, RJ Gaurav Bhatt of Delhi will flourish the attendees of the workshop with history of Radio, its basics and other information related to it. Read more

ठालागिरी सदस्यों द्वारा फोटोग्राफी वर्कशॉप का सफल आयोजन

third-master-of-art-workshop-by-thalagiri

ठालागिरी सदस्यों द्वारा “मास्टर ऑफ़ आर्ट” की श्रृंखला में एक ओर कड़ी को जोड़ते हुए “फोटोग्राफी वर्कशॉप” का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया। यह वर्कशॉप “राजदीप राकेश एवं विजय सावनानी” के नेतृत्व में संपन्न हुई। ज्ञात हो की ठालागिरी इससे पूर्व में भी विभिन्न प्रकार की वर्कशॉप आयोजित करा चुके हैं। ठालागिरी पिछले डेढ़ वर्ष से आर्ट एवं आर्टिस्टस को स्तरीय मंच प्रदान करने हेतु विभिन्न गतिविधियों का आयोजन करते हैं। Read more

पुकार द्वारा मनाया जाएगा विश्व पर्यावरण दिवस

pukaar-will-celebrate-world-environment-day

शहर को स्वच्छ व हरा-भरा बनाने के उद्देश्य से कार्यरत युवा संगठन पुकार द्वारा 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस, विज्ञान महाविद्यालय में मनाया जाएगा। Read more

’अस्तित्व’ के दो सशक्त मंचन

play-astitva-by-natyansh-on-womens-day

‘‘- हर छोटी बच्ची को डराया जाता है, उसे हर पल याद दिलाया जाता है कि वो एक लडकी है।
– लड़कियों को हर बात के लिए सिर्फ इसलिए रोकना कि वो एक लड़की है, कहाँ तक सही है?
– हम अगर 10 मिनिट भी लेट हो जाए तो हम पर सवालों कि बारिश हो जाती है।
– हमारे फोन की ऐसे तलाशी होती है जैसे हम अन्तरराष्ट्रीय आतंकवादियों के सम्पर्क में हो।’’ Read more

Some Different Angles of Kavi Sammelan ‘Kavyangan’ feat. Dr. Kumar Vishwas

kumar-vishwas-in-kavyangan

Check out some different angles of the Kavi Sammelan ‘Kavyangan’ which featured Dr. Kumar Vishwas. Read more

शहर में साईकल मैराथन का आयोजन

harawal-cycle-marathon
28 जुलाई 2014, उदयपुर। हरावल साईकल इनिशिएटिव द्वारा रविवार को शहर में सुबह छ: बजे  पेंतीस किलोमीटर लंबी हरावल साइकल मैराथन मॉनसून का आयोजन किया गया। संयोजक मनीष कटारिया और विशाल धाभाई ने चेटक सर्कल स्थित सूचना केंद्र से मैराथन को हरी झंडी दिखाई।

नाट्यांश कलाकारों ने तम्बाकु और नशे को कहा ‘‘रूको’’

ruko-street-play

आज देश और समाज में बढ़ रहे तम्बाकु सेवन और नशे की लत को रोकने के लिए शनिवार शाम को ‘‘नो टबैको डे’’ यानी तम्बाकु निषेध दिवस के अवसर पर एक नुक्कड नाटक ‘‘रूको’’ का मंचन उदयपुर की नाट्य संस्था द्वारा किया गया। इस नाटक में बताया गया कि लोग खाली समय में तम्बाकु, गुटखा और नशे के प्रति आर्कषक होते है। जो कि जानलेवा है। Read more

जवाब नहीं हाजिर जवाबी का : CTAE Tech Fest Gold Fiesta Photos Day 2

ctae-gold-fiesta

उदयपुर, 5 अप्रेल 2014! महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के संगठक, प्रौद्योगिकी एवं अभियान्त्रिकी महाविद्यालय की स्थापना के स्वर्ण जंयती वर्ष के कार्यक्रमों के अंतर्गत होने वाले तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम ‘गोल्ड फियेस्टा 2014’ का आयोजन के बारे में महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. घनश्याम तिवारी़ ने बताया कि महाविद्यालय के वार्षिक उत्सव तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम ’गोल्ड फियेस्टा 2014’ में 1500 से अधिक अभियांत्रिकी छात्र समुदाय अपनी विभिन्न सह-शैक्षणिक गतिविधियों में मशगूल थे। Read more

सरोबार हुआ टेक फेस्ट- गोल्ड फियेस्टा 2014 में सीटीएई

ctae-gold-fiesta

महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के संगठक, प्रौद्योगिकी एवं अभियान्त्रिकी महाविद्यालय की स्थापना के स्वर्ण जंयती वर्ष के कार्यक्रमों के अंतर्गत होने वाले तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम “टेक फेस्ट-गोल्ड फियेस्टा” के आयोजन के बारे में महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. घनष्याम तिवारी़ ने बताया कि तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम महाविद्यालय के वार्षिक उत्सव ’गोल्ड फियेस्टा 2014’ में 1500 से अधिक  अभियांत्रिकी छात्र समुदाय अपनी विभिन्न सह-शैक्षणिक गतिविधियों में मशगूल थे। जिनमें छात्रों का उत्साह देखते हुए बनता है। Read more

टेकफेस्ट-2014 गोल्ड फियेस्टा: ऑडिशन्स में दिखाया दम

ctae-logo

उदयपुर, 3 अप्रेल 2014 ! महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के संगठक, प्रौद्योगिकी एवं अभियान्त्रिकी महाविद्यालय की स्थापना के स्वर्ण जंयती वर्ष के कार्यक्रमों के अर्न्तगत होने वाले तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम ‘टेक फेस्ट-गोल्ड फियेस्टा’ का आयोजन के बारे में महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. घनश्याम तिवारी़ ने बताया कि तकनीकी एवं सांस्कृतिक संगम ’गोल्ड फियेस्टा 2014’ के आडिशन के लिए एकल नृत्य में 50, समूह नृत्य में 18 टीमों, एकल गायन में 75, समूह गायन में 34 टीमों, यन्त्र वादन में 12, हिन्दी वाद-विवाद प्रतियोगिता में 54, अंग्रेजी वाद-विवाद में 84, आशुभाषण में 55 एवं सांस्कृतिक नृत्य में 32 प्रतियोगियों ने भाग लिया। जिनमें से लगभग सभी प्रतियोगिताओं में दस से पन्द्रह प्रतिभागियों को निर्णायक दौर में लेने के लिये निर्णायकगणों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। Read more